Ganesha Chaturthi Essay In Hindi English - Vinayaka Chaturthi

Ganesha Chaturthi Essay In Hindi English – Vinayaka Chaturthi

Ganesha Chaturthi Essay In Hindi English – Vinayaka Chaturthi: A warm, welcome in our website and wish you happy Ganesha Chaturthi all, may lord Krishna bless you all. As we all know that, Ganesha Chaturthi is one of the biggest festivals of Hindu and the festival is celebrated in all over the India. Generally, Ganesha Chaturthi falls in the month of Bhadrapada (according to the Hindu calendar) and according to the English calendar, Ganesha Chaturthi falls in the month of August-September. The festival is also called Vinayaka Chaturthi or Ganesh Chaturthi, generally, the festival is celebrated up to the 10-11 days. In the public life, Ganesha Chaturthi is a gazetted holiday. On this day all the government and private offices are totally closed. We can say, Ganesha Chaturthi is the boggest festival of Maharashtra and Telangana.

So this special occasion many people are finding Ganesha Chaturthi Essay in Hindi English, so here in this article, I am going to provide you Ganesha Chaturthi essay in Hindi English, hope you like these Ganesha Chaturthi essay.

See also:

Lord Ganesha HD Images Pics Free Download

Ganesha Chaturthi Essay In Marathi – Happy Ganesh Utsav

Ganesha Chaturthi Essay In Hindi:

97

ganesh

ganesh5---mos_091715094940

 RTR27DY4

 

हेलो दोस्तों, सबसे पहले में आप सभी लोगो को गणेश चतुर्थी की हार्दिक सुभकामनाएँ देता हु जैसा की हम सभी जानते है, की गणेश चतुर्थी हिन्दुओ का एक बहुत बड़ा त्यौहार है, और सभी हिन्दू इस त्यौहार को बड़ी धूम-धाम के साथ मानते है । सामान्यतः यह त्यौहार १०-११ दिनों तक मनाया जाता है । गणेश चतुर्थी सामान्यतः पूरे भारत में बड़े जोश के साथ मनाया जाता है लेकिन गणेश चतुर्थी का त्यौहार दक्षिण भारत में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है । गणेश चतुर्थी के दिन हम भगवान गणेश जी की मूर्ति को समुद्र में विसर्जित करते है । जैसा की हम सभी जानते है इस साल गणेश चतुर्थी ५ सितम्बर को है, गणेशोत्सव की शुरुआत हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, भादों माह में शुक्ल चतुर्थी से होती है। इस दिन को गणेश चतुर्थी कहा जाता है। दस दिन तक गणपति पूजा के बाद आती है अनंत चतुर्दशी जिस दिन यह उत्सव समाप्त होता है। पूरे भारत में गणेशोत्सव धूमधाम से मनाया जाता है। श्री गणेशजी का चेहरा हाथी का है और सवारी चूहे की है जो कि उनके भक्तों में विनोद का भाव भी पैदा करता है। उनको यह चेहरा उनके पिता भगवान शिव ने ही दिया जिन्होंने क्रोधवश उसे काट दिया था। एक बार माता पार्वती जी नहा रही थी और उन्होंने अपने पुत्र बालक गणेश को यह निर्देश दिया कि वह दरवाजे पर बैठकर पहरा दें और किसी को घर के अंदर न आने दें। आज्ञाकारी बालक गणेश जी वहीं जम गये। थोड़ी देर बात भगवान शिव आये तो श्री गणेश जी ने उनको अंदर जाने से रोका। पिता पुत्र में विवाद हुआ और भगवान शिव ने अपने ही बेटे का सिर अपने फरसे से काट दिया। बाद में उनको पछतावा हुआ और फिर उनको हाथी का सिर लगाकर पुनः जीवन प्रदान किया गया। एक बार में फिर से आप लोगो को गणेश चतुर्थी की हार्दिक बधाई देता हु और आशा करता हु की भगवान् गणेश की कृपा आप पर बानी रहे |

Thanks for the visiting our website, for more Ganesha Chaturthi updates stay connect with us.

Incoming search terms:

  • ganesh chaturthi essay in english
  • Hindi school poem HD image
  • information of ganesh chaturthi in hindi in English
  • marathi poetry imformation in marathi and image for essay
  • Shiba chaturthi images

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *